भारतीय संस्कृति के पुन: निर्माण के लिए जनकार्यक्रम

एनसीएफ के साथ साझेदारी

एनसीएफ के साथ साझेदारी

  लाभ
  • हमारे सामान्य भविष्य को मजबूत करने के लिए भारत के सांस्कृतिक समुदाय के साथ दाता लंबे समय तक स्थायी संबंध बना सकते है |
  •  एनसीएफ सांझेदारी में कि गयी परियोजनाओं को विकसित और कार्यान्वित करने के लिए संस्थागत समर्थन प्रदान करता है |
  • एनसीएफ परियोजना प्रबंधन में पूरी तरह से लचीलापन सुनिश्चित करता है |
  • एनसीएफ परियोजनाओं को विस्तृत रूप से तकनीकी सहायता प्रदान करता है |
  • एनसीएफ सार्वजनिक दृश्यता और जवाबदेही के लिए एक मंच प्रदान करेगा |
  • दाता केंद्र-बिन्दु, स्थान-विशेष, लक्षित समूह के आधार पर परियोजनाओं का चयन कर सकते है |
  • नेशनल कल्चर फंड में आयकर अधिनियम में लाभ के लिए, 1961 की धारा 80 जी (ii) के तहत 100% कर ग्रहणीय हैं।
  • एनसीएफ एक एमओयू के माध्यम से परियोजना प्रबंधन में लचीलापन प्रदान करता है जिसमें स्पष्ट रूप से दाता, एनसीएफ और लागूकर्ता के कार्यो का उल्लेख किया गया है
  • परियोजना कार्यान्वयन समिति के जरिए दाता परियोजना में सक्रिय रूप से भाग ले सकता है |
  • दाता के द्वारा विभिन्न नवीन विकल्पों फ़लक की स्थापना, प्रचार कार्यक्रमों की स्थापना, समपार्श्विक प्रिंट के माध्यम से को उनके योगदान का आभार प्रकट किया जाता है | एनसीएफ रचनात्मक स्वीकृति मॉडल के लिएअपने दाताओ के साथ उनकी आवश्यकताओं के अनुसार घुलमिल कर कार्य करता है |
  • हमारे सभी संभावित दाताओं के अनुरूप हमारे पास बड़ी संख्या में उत्कृष्ट परियोजनाएँ पूरे देश में फैली हुई है |

राष्ट्रीय संस्कृति निधि